उत्तर भारत में शीतलहर का अनुमान, मौसम विभाग ने दी शराब से तौबा करने की सलाह

    0
    143
    उत्तर भारत में शीतलहर का अनुमान, मौसम विभाग ने दी शराब से तौबा करने की सलाह

    कश्मीर में वर्तमान में ‘चिल्लै-कलां’ चल रहा है जिसमें 40 दिनों तक भीषण ठंड की स्थिति रहती है. 21 दिसंबर से शुरू हुआ ‘चिल्लै-कलां’ 31 जनवरी को खत्म होगा. इसके बाद 20 दिन का ‘चिल्लै-खुर्द’ और फिर 10 दिन का ‘चिल्लै-बच्चा’ होगा.

    नई दिल्ली: अगले कुछ दिन उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ने वाली है. ऐसे में मौसम विभाग ने घर में बैठे-बैठे या नए साल की पार्टी में शराब न पीने की सलाह दी है. विभाग का कहना है कि शीतलहर के दौरान शराब पीना सेहत के लिए बहुत नुकसानदेह हो सकता है.

    मौसम विभाग ने कहा है कि 28 दिसंबर से पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान में ‘भयंकर’ शीतलहर चलने का अनुमान है और इस दौरान फ्लू, जुकाम, नाक से खून निकलने जैसी समस्याएं होने की आशंका है. जो ऐसे दिक्कतों से जूझ रहे हैं लंबे समय तक ठंड रहने के कारण उनकी परेशानियां भी बढ़ेंगी.

    परामर्श में कहा गया है, “शराब ना पिएं. इससे आपके शरीर का तापमान कम होता है. घर के भीतर रहें. विटामिन सी युक्त फलों का सेवक करें, अपनी त्वचा को नरम रखें ताकि कड़ाके की ठंड के प्रभाव से बचा जा सके.”

    जम्मू-कश्मीर, लद्दाख में रविवार, सोमवार को बर्फबारी होने के आसार
    जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में कठोर सर्दियों की अवधि चिल्लई कलां के बीच शीतलहर पड़ना जारी है. शनिवार को मौसम कार्यालय ने अपने पूर्वानुमान में द्रास और जोजिला सहित दोनों केंद्र शासित प्रदेशों के अन्य इलाकों में रविवार और सोमवार को हल्की से मध्यम बर्फबारी होने की बात कही है.

    मौसम विभाग के निदेशक सोनम लोटस ने कहा, “दोनों केंद्र शासित प्रदेशों में अगले 24-36 घंटों के दौरान मौसम मुख्य रूप से शुष्क रहने की संभावना है. कश्मीर में व्यापक रूप से हल्की से मध्यम बर्फबारी खासकर ऊंचे पहाड़ी इलाकों और लद्दाख के द्रास, जोजिला क्षेत्र में 27 से 28 तारीख तक होने की संभावना है.”

     

     

    link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here