पंजाब में प्रदर्शनकारियों ने बीजेपी नेता के घर पर डाला गोबर, CM अमरिंदर सिंह ने कानून हाथ में नहीं लेने की दी चेतावनी

    0
    228
    पंजाब में प्रदर्शनकारियों ने बीजेपी नेता के घर पर डाला गोबर, CM अमरिंदर सिंह ने कानून हाथ में नहीं लेने की दी चेतावनी

    होशियारपुर में एक बीजेपी नेता के घर के गेट पर कुछ युवकों ने शुक्रवार को ट्रैक्टर ट्रॉली से गाय का गोबर बिखेर दिया. ये लोग कथित तौर पर केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे थे. वहीं, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने लोगों से विरोध के नाम पर कानून हाथ में नहीं लेने की चेतावनी दी है.

    चंडीगढ़: पंजाब के होशियारपुर में एक बीजेपी नेता के घर के गेट पर कुछ युवकों ने शुक्रवार को गाय के गोबर से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली से गोबर बिखेर दिया. ये लोग कथित तौर पर केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे थे. इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने लोगों से विरोध के नाम पर कानून हाथ में नहीं लेने की चेतावनी दी है.

    रिपोर्ट्स के अनुसार, कृषि कानूनों का विरोध कर रहे एक ग्रुप ने होशियारपुर में पूर्व राज्य मंत्री और बीजेपी नेता तीक्ष्ण सूद के घर के बाहर प्रदर्शन किया और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की. उनमें से कुछ युवकों ने सूद के घर के गेट पर गाय का गोबर डाल दिया.

    स्थानीय पुलिस ने एक बयान में कहा कि सूद समर्थकों और प्रदर्शनकारियों के बीच टकराव को रोकने के लिए हस्तक्षेप करना पड़ा. घटना के बाद सूद ने अपने घर पर गोबर फेंकने के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर धरना दिया.

    अमरिंदर सिंह ने कानून हाथ नहीं लेने की दी चेतावनी
    वहीं, मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने प्रदर्शनकारियों को कड़ी चेतावनी दी और कहा कि “लोगों की प्राइवेसी में खलल डालने से किसानों के शांतिपूर्ण आंदोलन का नाम खराब होगा और इसका मकसद खराब हो जाएगा” कैप्टन अमरिंदर सिंह ने संयम बरतने की अपील करते हुए कहा कि कई महीनों के बाद पंजाब में और साथ ही राष्ट्रीय राजधानी की सीमाओं पर किसी भी हिंसा या अराजकता नहीं हुई है और प्रदर्शनकारियों को संयम बरतना चाहिए.

    शांति और सद्भावना के माहौल पर पड़ सकता है असर
    इसके साथ ही अमरिंदर सिंह ने चेतावनी दी कि “किसी भी राजनीतिक पदाधिकारियों के घरों में जबरन प्रवेश करने जैसे कार्यों से शांति का माहौल खराब होगा और विभिन्न जातियों, धर्मों, समुदायों के लोगों के बीच सद्भाव बिगड़ सकता है और कानून व्यवस्था की स्थिति खराब हो सकती है. ”. पंजाब  बीजेपी प्रमुख अश्विनी कुमार शर्मा ने भी इस घटना की निंदा की. वहीं, पुलिस ने अज्ञात प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

     

    link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here