आपातकाल के दौरान गिरफ्तार किए गए लोगों को स्वतंत्रता सेनानी घोषित करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका

    0
    147
    आपातकाल के दौरान गिरफ्तार किए गए लोगों को स्वतंत्रता सेनानी घोषित करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका

    1975 के आपातकाल को असंवैधानिक घोषित करने की भी मांग थी।

    नई दिल्ली:

    देश में आपातकाल के दौरान गिरफ्तार किए गए लोगों के एक संगठन ने सुप्रीम कोर्ट में हस्तक्षेप याचिका दायर की है। याचिका में अदालत से उसे स्वतंत्रता सेनानी घोषित करने की मांग की गई है। ऑल इंडिया डेमोक्रेसी फाइटर ज्वाइंट एक्शन कमेटी ने इसे 94 वर्षीय वेरन सरीन द्वारा दायर याचिका का हिस्सा बनाने की मांग की है। उन्होंने 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा घोषित आपातकाल को असंवैधानिक घोषित करते हुए शीर्ष अदालत का रुख किया।

    सरीन ने 1975 की आपातकाल को असंवैधानिक घोषित करते हुए याचिका दायर की और 25 करोड़ रुपये के मुआवजे की मांग की। सरीन ने आपातकाल के दौरान जब्त की जा रही अपनी संपत्ति के मुआवजे की मांग की थी। गौरतलब है कि 1975 में आपातकाल के दौरान सैकड़ों लोगों को हिरासत में रखा गया था। आपातकाल के दौरान गिरफ्तार या हिरासत में लिए गए लोगों को सुविधाएं प्रदान करने की मांग पहले भी कई मंचों के माध्यम से की जा चुकी है। अब अखिल भारतीय लोकतंत्र सेनानी संयुक्त कार्रवाई समिति ने इस मामले में अदालत का रुख किया है।

     

     

    link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here