Assembly Election: पहले फेज की वोटिंग खत्म, West Bengal में हिंसा के बीच 79.79% और Assam में 72.30% मतदान

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली

West Bengal और Assam की कुल 77 सीटों पर शनिवार को पहले चरण के तहत मतदान हुए। इनमें बंगाल की 30 और असम की 47 सीटें शामिल हैं। इलेक्शन कमीशन से मिली जानकारी के अनुसार, शाम 6 बजे तक यानी 11 घंटे में बंगाल में 79.79% और असम में 72.14% वोटिंग हुई। मतदान का समय शाम 6 बजे तक तय किया गया था। कोरोना की वजह से इसे 1 घंटे बढ़ाया गया था।

बंगाल में 60 पोलिंग बूथ पर EVM से छेड़छाड़ की शिकायतें सामने आई हैं। कुछ जगह EVM में तकनीकी दिक्कत की वजह से वोटर्स को 2 घंटे तक इंतजार करना पड़ा। इस बीच, पश्चिम बंगाल की CM और TMC नेता ममता बनर्जी ने खड़गपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। ममता ने कहा कि चुनाव के दौरान PM बांग्लादेश गए हुए हैं और वहां बंगाल पर भाषण दे रहे हैं। यह चुनाव आचार संहिता का खुला उल्लंघन है। हम चुनाव आयोग में इसकी शिकायत करेंगे।

ममता बोलीं- क्यों न PM मोदी का वीजा रद्द कर दिया जाए

ममता ने कहा कि कभी-कभी वे कहते हैं कि ममता बांग्लादेश से लोगों की घुसपैठ कराती हैं, लेकिन वह (PM मोदी) खुद वोट मार्केटिंग के लिए बांग्लादेश चले जाते हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में एक बांग्लादेशी एक्टर हमारी रैली में शामिल हुए थे। BJP ने बांग्लादेश की सरकार से बात की और उनका वीजा रद्द करवा दिया। यहां चुनाव हो रहे हैं, तो आप बांग्लादेश में जाकर एक समुदाय के वोट मांगें, अब क्यों नहीं आपका वीजा रद्द कर दिया जाए?

मिदनापुर में 2 जगहों से हिंसा की खबर

पूर्वी मिदनापुर के भगवानपुर विधानसभा इलाके के सतसतमल में फायरिंग की घटना हुई है। इसमें दो सुरक्षाबल घायल हो गए। बीजेपी के जिला अध्यक्ष अनूप चक्रवर्ती ने TMC कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाते हुए कहा है कि इलाके के लोगों को डराने की कोशिश की जा रही है। वहीं पश्चिमी मिदनापुर के सालबोनी में माकपा उम्मीदवार सुशांत घोष पर हमले की खबर है। यहां भी हमले का आरोप TMC कार्यकर्ताओं पर लगा है।

मिदनापुर की जिन 13 सीटों पर आज वोटिंग हुई है, इन पर TMC से बीजेपी में आए शुभेंदु अधिकारी का दबदबा माना जाता है। इधर, असम में पहले फेज में ही मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल मैदान में हैं। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दोनों राज्यों के वोटर्स खासकर युवाओं से सोशल मीडिया के जरिए अपील की है कि वे ज्यादा से ज्यादा संख्या में वोट डालने पहुंचें।

टीएमसी पर भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट का आरोप

सुवेंदु अधिकारी के भाई देवेंदु अधिकारी ने टीएमसी पर आरोप लगाया है कि रामनगर में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की गई। उन्होंने यह भी दावा किया है कि उनके गाड़ी पर भी हमला किया गया और तोड़फोड़ की गई। ड्राइवर को चोट आई है। उन्होंने कहा कि जिस वक्त गाड़ी पर हमला किया गया उस वक्त वह गाड़ी में मौजूद नहीं थे।

किम जोंग के स्टाइल में चल रही हैं ममताः गिरिराज

सुवेंदु अधिकारी के भाई की गाडी पर हुए हमले को लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि यह घटना ममता बनर्जी की हताशा के कारण हुआ है। ममता बनर्जी अब सीपीएम से भी आगे बढ़ गईं हैं, कोरिया के नेता किम जोंग के स्टाइल में चल रही हैं। अपने विरोधियों की हत्या करना चाहतीं हैं।

भाजपा ने टीएमसी पर लगाया पैसे बांटने का आरोप

बंगाल में मतदान के दौरान 60 पोलिंग बूथ पर EVM से छेड़छाड़ की शिकायतें सामने आई हैं। कुछ जगह मतदाताओं को दो घंटे तक इंतजार करना पड़ा। वहीं, भाजपा ने आरोप लगाया है कि पुरुलिया में टीएमसी उम्मीदवार ने मतदाताओं को पैसे बांटे हैं। भाजपा ने  इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है।

टीएमसी और भाजपा ने 29-29 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं

बंगाल में आज पहले चरण के लिए 30 सीटों पर मतदान हो रहा है। टीएमसी और भाजपा ने जहां 29-29 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं, वहीं वाम-कांग्रेस-आईएसएफ गठबंधन ने सभी 30 सीटों पर प्रत्याशी खड़े किए हैं।

बंगाल में 21 महिलाएं चुनावी मैदान में

बंगाल की 294 सीटों में से 30 सीटों पर चुनाव हो रहा है। इन पर 191 प्रत्याशी मैदान में हैं। इसमें 21 महिलाए हैं। बंगाल में पहले फेज में 73,80, 942 मतदाता ने वोटिंग की। इसमें 37,52,938 पुरुष और 36,27,949 महिलाएं हैं। वोटर्स में 55 थर्ड जेंडर भी शामिल हैं। इस फेज में 1,23,393 ऐसे व्यक्तियों ने भी वोट किए, जिनकी उम्र 80 से 90 के बीच है। चुनाव में 40,408 दिव्यांगों भी मतदान किया। पहले फेज के लिए बंगाल में 10,288 पोलिंग बूथ बनाए गए थे। बंगाल में केंद्रीय पुलिस की 92 कंपनी बांकुरा, 169 पूर्वी मेदिनीपुर, 139 पश्चिम मेदिनीपुर, 186 पुरुलिया और 144 झारग्राम में तैनात की गई। 2019 लोकसभा चुनाव की बात करें तो इन 30 सीटों में से 20 सीटों पर भाजपा ने बढ़त बनाई थी, जबकि TMC 10 सीटों पर ही आगे रही थी।

पहले चरण में असम के CM भी लड़ रहे चुनाव

पहले चरण में असम की 126 में से 47 सीटों पर चुनाव है। इन पर 264 प्रत्याशी मैदान में हैं। पहले फेज में मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल मजुली से चुनाव लड़ रहे हैं। उनका मुकाबला कांग्रेस के पूर्व मंत्री राजीव लोचन पेगु से है। इस चरण में स्पीकर हितेंद्रनाथ गोस्वामी जोरहाट विधानसभा क्षेत्र से मैदान में हैं। उनका मुकाबला पूर्व कांग्रेस विधायक राना गोस्वामी से है। कांग्रेस अध्यक्ष रिपुन बोरा भी नजीरा और गोहपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। एक और हाईप्रोफाइल सीट टिटाबोर है। जिस पर बीजेपी के सिटिंग विधायक हेमंत कलिता और कांग्रेस के भास्कर ज्योति बरुआ का मुकाबला है। इस सीट से पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई चार बार जीते हैं। असम में बीजेपी और कांग्रेस गठबंधन के अलावा असम जातीय परिषद भी मैदान में है।

दूसरे चरण का मतदान 1 अप्रैल को

बता दें कि बंगाल में कुल आठ चरणों में चुनाव होने वाले हैं। पहले चरण का मतदान जारी है। वहीं, दूसरे चरण का मतदान 1 अप्रैल को होगा, इसके तहत 30 सीटों पर लोग वोट डालेंगे।

link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here