तमिलनाडु विधानसभा चुनावः ए राजा को सीएम के खिलाफ अपत्तिजनक बयान देना महंगा पड़ा, EC ने प्रचार पर लगाया बैन

चेन्नईः

तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में जारी प्रचार अभियान के बीच एक बड़ी खबर सामने आई है. डीएमके पार्टी के नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री ए राजा के खिलाफ चुनाव आयोग ने बड़ा एक्शन लिया है. चुनाव आयोग ने ए राजा को 48 घंटों के लिए चुनाव प्रचार करने पर बैन लगा दिया है. चुनाव आयोग ने यह कदम इसलिए उठाया है कि उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री पलानीस्वामी के खिलाफ आपत्तिजनक बयान दिया था.

ए राजा पर बैन लगाते हुए चुनाव आयोग ने कहा, ”ए राजा का भाषण न केवल अपमानजनक है, बल्कि अश्लील और महिलाओं की गरिमा को भी ठेस पहुंचाता है. इस तरह का बयान चुनावी आचार संहिता का गंभीर उल्लंघन है.”

क्या कहा था ए राजा ने

मुख्यमंत्री की तुलना अपने पार्टी प्रमुख एमके स्टॉलिन से करते हुए ए राजा ने कहा था, ”…मैं यह कह सकता हूं कि स्टॉलिन सही तरीके से पैदा हुए हैं. मतलब शादी के बाद और रस्म रिवाज के साथ पूरे नौ महीने में. जबकि पलानीसामी प्रीमेच्योर बेबी हैं जो कि समय से पहले पैदा हो गए हैं.”

क्या कहा था AIADMK ने

ए राजा के बयान के बाद एआईएडीएमके ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी और उनके प्रचार पर बैन लगाने की मांग की थी. शिकायत मिलने के बाद चुनाव आयोग ने इस पर संज्ञान लिया और उन्हें प्रचार करने पर 48 घंटे के लिए रोक लगा दी.

ए राजा ने खेद व्यक्त किया था

अपने इस बयान के बाद ए राजा ने खेद जताया था. उन्होंने कहा था कि मेरे कहने का गलत मतलब निकाला गया. अगर राज्य के मुख्यमंत्री को मेरे बयान से ठेस पहुंची है तो मैं खेद व्यक्त करता हूं.

 

link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here