अक्षय बरदापुरकर और सोनाली कुलकर्णी ला रहे पहली रीजनल इंटरेक्टिव वेब फिल्म ‘हकमारी’

मुंबई,(आईएएनएस)। सस्पेंस फिल्में हमेशा आकर्षक होती हैं। वे आगे की घटना जानने के लिए दर्शक में उत्सुकता भी बनाए रखती हैं और उनकी कल्पनाशीलता को भी बढ़ावा देती हैं। लेकिन क्या हो कि जब फिल्म केवल एक काल्पनिक कहानी न होकर और कुछ लेकर भी आए? महाराष्ट्र के सुदूर कोनों से लोकगीतों से सजी आगामी सस्पेंस थ्रिलर हकमारी ऐसी ही एक फिल्म है।

प्लैनेट मराठी के सीएमडी अक्षय बरदापुरकर और नवोदित निर्माता सोनाली कुलकर्णी मराठी फिल्म इंडस्ट्री में पहली बार इंटरैक्टिव वेब फिल्म पेश करने जा रहे हैं। यह प्लैनेट मराठी की पहली वेब फिल्म है और इसे फिल्मफेयर पुरस्कार विजेता निर्देशक समीर विदवंस निर्देशित कर रहे हैं। वैसे तो निर्माताओं ने अभी तक स्टोरीलाइन के बारे में ज्यादा खुलासा नहीं किया है, लेकिन इसका रहस्यमयी शीर्षक ही दर्शकों के बीच खासा उत्साह पैदा कर रहा है।

फिल्मफेयर पुरस्कार विजेता निर्देशक समीर विदवंस अपनी प्रतिभा 2013 में अपने डेब्यू के साथ ही दिखा चुके हैं। 2013 में आई उनकी फिल्में धुरला, आनंदी गोपाल, वाईजेड, डबल सीट और माला कहींच समस्या नाही ने भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर फिल्म समारोहों में खासी सराहना पाई है। वैसे तो लव स्टोरीज में समीर का काम जगजाहिर है लेकिन हॉरर में वे पहली बार अपना टैलेंट दिखाने जा रहे हैं। इस कहानी को दिल दिमाग और बत्ती फेम ऋषिकेश गुप्ते ने लिखा है। साहित्य परिषद पुरस्कार-विजेता गुप्ते ने कई उपन्यास जैसे- दंशकाल, दैत्यालय, घंगारदा, अंध्रावरी और कलजुगारी शामिल हैं। इसमें हकमारी उनका सबसे ज्यादा सराहा गया काम है।

इसी तरह फिल्मफेयर अवार्ड-विजेता अभिनेत्री सोनाली कुलकर्णी लगातार अपने शानदार काम से प्रशंसकों को आश्चर्यचकित करती रही हैं। हर फिल्म के साथ यह अभिनेत्री और डांसर का काम निखरता जा रहा है। उन्होंने बॉलीवुड की हिट फिल्मों सिंघम और ग्रैंड मस्ती जैसी फिल्मों में काम करके भी अपनी प्रतिभा साबित की है।

सोनाली अब अपने छोटे भाई अतुल कुलकर्णी के साथ द फ्लेजर्स एंटरटेनमेंट के बैनर तले हकमारी के साथ फिल्म निर्माण की दुनिया में प्रवेश कर रही हैं। इसे लेकर उन्होंने कहा, पहले मैं एक कलाकार थी लेकिन अब मैं निर्माता भी हूं। ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दिनों से ही मैं फिल्म निर्माण से जुड़े काम में रुचि रखती थी। मराठी सिनेमा के अंदर तो इसे लेकर ढेर सारी संभावनाएं हैं। अब मैं अपने दर्शकों के लिए मनोरंजन की उत्कृष्ट कृतियां पेश करना चाहती हूं। फिल्म हकमारी के लिए मराठी सिनेमा को लेकर अक्षय जैसे व्यक्ति के विजन और समीर के शिल्प की जरूरत है। मैं उनके साथ काम करके बहुत खुश हूं।

प्लेनेट मराठी के सीएमडी अक्षय बरदापुरकर ने अपने इस प्रोजेक्ट को लेकर कहा, हकमारी फिल्म पारंपरिक हॉरर सिनेमा को चुनौती देती है। यह एक अलग तरह के युग में सेट की गई एक इंटरैक्टिव वेब फिल्म है, जो अंधविश्वास, लोककथाओं, रहस्य, प्रेम, हॉरर जैसे विषयों की एक बड़ी श्रृंखला को छूती है। फ्लेजर्स, ए 3 मीडिया एंड इवेंट्स और समीर के साथ मिलकर हम दर्शकों को रोमांच और उत्साह से भरने के लिए तैयार हैं।

link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here