राजनीति कर्नाटक में सत्ता परिवर्तन की संभावना: येदियुरप्पा बोले- जल्द आ सकता है...

    कर्नाटक में सत्ता परिवर्तन की संभावना: येदियुरप्पा बोले- जल्द आ सकता है हाईकमान का आदेश, जेपी नड्डा ने सीएम के काम की तारीफ की

    0
    कर्नाटक में सत्ता परिवर्तन की संभावना: येदियुरप्पा बोले- जल्द आ सकता है हाईकमान का आदेश, जेपी नड्डा ने सीएम के काम की तारीफ की

    कर्नाटक में सत्ता परिवर्तन की संभावना: येदियुरप्पा बोले- जल्द आ सकता है हाईकमान का आदेश, जेपी नड्डा ने सीएम के काम की तारीफ की

    • डिजिटल डेस्क, बेंगलुरु। कर्नाटक में सत्ता परिवर्तन की संभावना के बीच, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रविवार को राज्य में मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की। नड्डा ने अपने दो दिवसीय गोवा दौरे के आखिरी दिन संवाददाताओं से कहा, ‘येदियुरप्पा ने अच्छा काम किया है। येदियुरप्पा अपने तरीके से चीजों का ध्यान रख रहे हैं।’ यह पूछे जाने पर कि क्या दक्षिणी राज्य में नेतृत्व का संकट है? नड्डा ने कहा, ‘आप ऐसा महसूस करते हैं। हमें ऐसा नहीं लगता।’

      कर्नाटक में दलित मुख्यमंत्री की नियुक्ति पर चर्चा हो रही है। इसको लेकर मुख्यमंत्री बीएस येदयुरप्पा का बड़ा बयान आया है। सीएम येदियुरप्पा ने कहा, ‘मुझे शाम तक हाईकमान से सुझाव की उम्‍मीद है। आपको भी पता चल जाएगा कि क्‍या होगा। हाईकमान इस बारे में तय करेगा। मुझे इसकी चिंता नहीं है।’बता दें कि बीते दिनों येदियुरप्पा ने कहा था, हमारी सरकार के दो साल पूरे होने पर 26 जुलाई को एक कार्यक्रम है। इसके बाद जो भी भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा तय करेंगे, मैं उसका पालन करूंगा। इसी के बाद येदियुरप्पा का पद से हटना लगभग तय माना जा रहा है।

      येदियुरप्पा लिंगायत जाति के कद्दावर नेता हैं। वे कर्नाटक की राजनीति के धुरंधर हैं। फिलहाल उनके कद का नेता कांग्रेस या अन्य किसी पार्टी के पास भी नहीं है। लिहाजा कर्नाटक में जो भी नया मुख्यमंत्री बनेगा उन्हें येदियुरप्पा के समर्थन की जरूरत होगी। येदियुरप्पा 2018 में कर्नाटक में सियासी नाटक के दौरान पहले ढाई दिन के लिए मुख्यमंत्री बने और इमोशनल स्पीच के बाद सत्ता छोड़ दी थी। फिर दोबारा 2019 में बहुमत साबित कर मुख्यमंत्री बनने की प्रक्रिया ने भी आलाकमान के सामने येदियुरप्पा का कद बढ़ा दिया था।

    link

    NO COMMENTS

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Exit mobile version