एंटीलिया केस: नोट गिनने वाली मशीन लेकर घूमती थी सचिन वाजे की ‘मिस्ट्री गर्ल’ मीना जार्ज, NIA सूत्रों ने किया बड़ा दावा

मुंबई:

एंटीलिया केस के आरोपी सचिन वाजे की सहयोगी मिस्ट्री गर्ल की पहचान जाहिर होने के साथ ही वाजे से जुड़े कई राज बाहर आने लगे हैं. एंटीलिया केस की मिस्ट्री गर्ल मीना जार्ज से एनआईए पिछले 3 दिन से पूछताछ कर रही है. मीना जार्ज वही महिला है जो मुंबई के ट्राइडेंट होटल में दिखी थी. पूछताछ में पता चला है कि सचिन वाजे और मीना जार्ज का एक ज्वाइंट एकाउंट और लॉकर है.

मुंबई के DCB बैंक के अंधेरी-वर्सोवा ब्रांच में दोनों का ज्वाइंट एकाउंट और लॉकर का पता चला है. सचिन वाजे की गिरफ्तारी के बाद एकाउंट से लगभग 26 लाख रुपए निकाल लिए गए, अब सिर्फ 5 हजार रुपए ही बचे हैं. वाजे की गिरफ्तारी के बाद लॉकर भी खोले गए थे, जिसमें सिर्फ कुछ डॉक्यूमेंट बचे हैं. एनआईए इस बात की तह तक पहुंचना चाहती है कि वाजे और मीना के ज्वाइंट एकाउंट से पैसे किसने और क्यों निकाले. दोनों के लॉकर से क्या बाहर निकाला गया है.

नोट गिनने वाली मशीन लेकर घूमती थी ‘मिस्ट्री गर्ल’

पहले से उलझे इस मामले में मीना जार्ज का रहस्य भी काफी बड़ा है. एनआईए सूत्रों के मुताबिक मीना पैसे गिनने की मशीन साथ में लेकर घूमती थी और वो ट्राइडेंट होटल में वाजे से मिलने जाती थी. मीना सचिन वाजे के पैसे संभालने का काम करती थी.

एनआईए की मानें तो सचिन वाजे और मीना जॉर्ज के बेहद करीबी संबंध है. मीना, सचिन वाजे के पैसे संभालने का काम करती थी. NIA को शक है कि मुंबई के बार, पब, रेस्टोरेंट से वसूले गए पैसे को ठिकाने लगाने का काम मीना जार्ज करती थी. मीना से पूछताछ में वाजे के और राज बाहर आ सकते हैं, फिलहाल सचिन वाजे को 7 अप्रैल तक एनआईए की रिमांड में भेज दिया गया है.

 

 

link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here