स्पोर्ट्स सचिन की कप्तानी में इंडिया लीजेंड्स ने जीता रोड सेफ्टी वर्ल्ड सेफ्टी...

सचिन की कप्तानी में इंडिया लीजेंड्स ने जीता रोड सेफ्टी वर्ल्ड सेफ्टी सीरीज का खिताब, श्रीलंका लीजेंड्स को 18 रन से हराया

0
13
सचिन की कप्तानी में इंडिया लीजेंड्स ने जीता रोड सेफ्टी वर्ल्ड सेफ्टी सीरीज का खिताब, श्रीलंका लीजेंड्स को 18 रन से हराया

सचिन की कप्तानी में इंडिया लीजेंड्स ने जीता रोड सेफ्टी वर्ल्ड सेफ्टी सीरीज का खिताब, श्रीलंका लीजेंड्स को 18 रन से हराया

डिजिटल डेस्क, रायपुर

पठान बंधुओं के आलराउंड प्रदर्शन के दम पर सचिन तेंदुलकर की अगुवाई में इंडिया लेजेंड्स ने रविवार को यहां रायपुर के शहीद वीर नारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए फाइनल में श्रीलंका लेजेंड्स को 14 रन से हराकर रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज टी20 टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया। इंडिया लेजेंड्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 181 रन का स्कोर बनाया और फिर श्रीलंका लेजेंड्स को निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट पर 167 रन पर रोक दिया।

श्रीलंका के लिए सनथ जयसूर्या ने 35 गेंदों पर पांच चौके और एक छक्के की बदौलत 43 रन बनाए। उनके अलावा कप्तान तिलकरत्ने दिलशान ने 21, चमारा सिल्वा ने दो, उपुल थरंगा ने 13, चिंतका जयसिंघे ने 40 और कौशल्या वीरारत्ने ने 38 रन बनाए। इंडिया लेजेंड्स की ओर से यूसुफ पठान ने बल्लेबाजी में नाबाद 62 रन बनाने के अलावा गेंदबाजी में भी शानदार प्रदर्शन किया। यूसुफ ने चार ओवर में 26 रन देकर दो विकेट और इरफान पठान ने चार ओवर में 29 रन देकर दो विकेट लिए। वहीं, मनप्रीत सिंह गोनी और मुनाफ पटेल ने भी एक-एक विकेट लिया।

श्रीलंका लीजेंड्स: दिलशान और जयसूर्या ने बेहतरीन शुरुआत दिलाई

इंडिया से मिले 182 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका को कप्तान तिलकरत्ने दिलशान (21) और सनथ जयसूर्या (43) ने पहले विकेट के लिए 7.2 ओवर में 62 रन जोड़कर शानदार शुरुआत दी। हालांकि, लंबी होती जा रही इस साझेदारी को यूसुफ पठान ने दिलशान को विकेटकीपर प्रज्ञान ओझा के हाथों कैच कराकर तोड़ा। दिलशान ने 18 गेंदों पर तीन चौके लगाए। यूसुफ के बाद इरफान पठान ने अपने पहले ही ओवर में चमारा सिल्वा (2) को एस बद्रीनाथ के हाथों गली में कैच कराकर श्रीलंका को दूसरा झटका दिया। पठान बंधुओं की घातक गेंदबाजी के आगे श्रीलंका ने 91 रन तक अपने चार ओवर विकेट गंवा दिए थे, जिसमें यूसुफ ने जयसूर्या को पगबाधा जबकि इरफान ने उपुल थरंगा (13) को आउट किया। जयसूर्या ने 35 गेंदों पर पांच चौके और एक छक्का लगाया।

इसके बाद हालांकि चिंतका जससिंघे (40) और कौशल्या वीरारत्ने (38) ने पांचवें विकेट के लिए 64 रन जरूर जोड़े, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी और इंडिया ने 14 रन से मैच और खिताब अपने नाम कर लिया। जयसिंघे ने 30 गेंदों पर एक चौका और दो छक्के जबकि वीरारत्ने ने 15 गेंदों पर तीन चौके और इतने ही छक्के लगाए। इंडिया लेजेंड्स की ओर से यूसुफ पठान ने बल्लेबाजी में नाबाद 62 रन बनाने के अलावा गेंदबाजी में भी शानदार प्रदर्शन किया। यूसुफ ने चार ओवर में 26 रन देकर दो विकेट और इरफान पठान ने चार ओवर में 29 रन देकर दो विकेट लिए। वहीं, मनप्रीत सिंह गोनी और मुनाफ पटेल ने एक-एक विकेट लिया।

इंडिया लीजेंड्स: पठान बंधुओं ने बड़े स्कोर तक पहुंचाया

इससे पहले, यूसुफ पठान (नाबाद 62) और युवराज सिंह (60) के अर्धशतकों की बदौलत इंडिया लेजेंड्स ने चार विकेट पर 181 रन का स्कोर बनाया और फिर उसके गेंदबाजों ने इस स्कोर का बचाव कर लिया। इंडिया लेजेंडस के लिए वीरेंद्र सहवाग फाइनल में अपना जलवा नहीं दिखा सके। रंगना हेराथ ने 19 रन के स्कोर पर सहवाग को बोल्ड करके इंडिया को पहला झटका दिया। सहवाग ने गेंदों पर एक छक्के के सहारे 12 रन का योगदान दिया।

सहवाग के आउट होने के बाद टूर्नामेंट में अपना तीसरा मैच खेलने उतरे एस बद्रीनाथ (7) भी कुछ खास नहीं कर सके और टीम के 35 के स्कोर पर दूसरे बल्लेबाज के रूप में आउट हो गए। उन्हें सनथ जयसूर्या ने पगबाधा आउट किया। 35 रन पर दो विकेट गंवाने के बाद कप्तान सचिन तेंदुलकर (30) ने युवराज के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 43 रनों की साझेदारी की। सचिन को फरवीज महारूफ ने विकेटकीपर उपुल थरंगा के हाथों कैच कराया। सचिन ने 23 गेंदों पर पांच चौके लगाए।

कप्तान के पवेलियन लौटने के बाद युवराज ने इस टूर्नामेंट में अपना दूसरा अर्धशतक पूरा किया और यूसुफ के साथ चौथे विकेट के लिए 85 रन की शानदार साझेदारी करके इंडिया लेजेंड्स को चार विकेट पर 181 रन तक पहुंचाने में मदद की। युवराज टीम के 163 के स्कोर पर चौथे बल्लेबाज के रूप में आउट हुए। उन्हें कौशल्या वीररत्ने ने महारूफ के हाथों कैच कराया। युवराज ने 41 गेंदों पर चार चौके और चार छक्के की मदद से इस टूर्नामेंट में अपना सर्वोच्च स्कोर बनाया। यूसुफ ने 36 गेंदों पर चार चौके और पांच छक्के लगाए और इस टूर्नामेंट में अपना पहला अर्धशतक जमाया। इरफान पठान ने तीन गेंदों पर एक छक्के के सहारे नाबाद 8 रन बनाए। श्रीलंका लेजेंड्स के लिए रंगना हेराथ, सनथ जयसूर्या और फरवीज महारूफ और कौशल्या वीररत्ने ने एक-एक विकेट लिया।

link

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here