गैजेट्स LG ने पूरी तरह से बंद किया मोबाइल कारोबार, घाटे के बाद...

LG ने पूरी तरह से बंद किया मोबाइल कारोबार, घाटे के बाद बंद होने वाली पहली कंपनी बनी

0
8
LG ने पूरी तरह से बंद किया मोबाइल कारोबार, घाटे के बाद बंद होने वाली पहली कंपनी बनी

LG ने पूरी तरह से बंद किया मोबाइल कारोबार, घाटे के बाद बंद होने वाली पहली कंपनी बनी

दक्षिण कोरियाई कंपनी LG ने सोमवार को ऐलान किया कि वह पूरी तरह से अपने मोबाइल कारोबार को बंद कर रही है। बता दें, बीते छह सालों से कंपनी लगातार मोबाइल सेगमेंट में घाटे का सामना कर रही थी, जिस वजह से अब कंपनी ने इसे बंद करने का निर्णय ले लिया है। एलजी का स्मार्टफोन मार्केट में ग्लोबल शेयर सिर्फ 2 प्रतिशत ही है। रिसर्च प्रोवाइडर काउंटरपॉइंट के मुताबिक, एलजी ने पिछले साल 23 मिलियन फोन शिप किए थे, इसकी तुलना में सैमसंग ने 256 मिलियन फोन शीप किए थे। कारोबार में लगातार हो रहे नुकसान को झेलते-झेलते अब आखिरकार कंपनी ने इसे शटडाउन करने का फैसला ले लिया है।

Reuters की रिपोर्ट के मुताबिक LG ने अपने मोबाइल कारोबार को बंद करने का ऐलान कर दिया है।

यह कंपनी पिछले छह सालों से अपने मोबाइल डिविज़न में घाटे का सामना कर रही है। कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि लगातार मोबाइल सेगमेंट में हो रहे घाटे को मद्देनज़र रखते हुए अब कंपनी ने इसे बंद कर दिया है, ताकि कंपनी अपने अन्य क्षेत्रों जैसे इलेक्ट्रिक वीकल कंपोनेंट्स, कनेक्टिड डिवाइस एंड स्मार्ट होम आदि पर ध्यान केंद्रित कर सके।

जैसे कि उल्लेख किया गया है कि एलजी पिछले कई सालों से घाटे का सामना कर रही थी, वहीं पिछले कुछ समय से खबरें आ रही थी कंपनी कुछ ही दिनों में अपने मोबाइल सेगमेंट कारोबार को बंद करने वाली है। हालांकि, तब कंपनी द्वारा इस संबंध में किसी प्रकार का आधिकारिक बयान ज़ारी नहीं किया गया था। लेकिन अब कंपनी ने कारोबार को बंद करने के ऐलान के साथ पिछली सभी लीक्स को पुख्ता कर दिया है।

बताया जा रहा है कि कंपनी अपने स्मार्टफोन डिविज़न के कर्मचारियों को अन्य LG Electronics बिजनेस में शिफ्ट करेगी।

बयान में यह भी कहा गया है कि भले ही कंपनी अपने मोबाइल कारोबार को खत्म कर रही हो, लेकिन मौजूदा मोबाइल प्रोडक्ट्स के लिए कंपनी सर्विस सपोर्ट और सॉफ्टवेयर अपडेट्स जैसी सुविधाएं देना ज़ारी रखेगी।

link

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here