Ordnance Factories Day 2021: आज मनाया जा रहा OFB का 219वां स्‍थापना दिवस, जानिए इसका इतिहास

नई दिल्लीः आज देशभर में आयुध कारखाने Ordnance Factories Day मना रहे हैं. यह Ordnance Factory का 219वां स्‍थापना दिवस है. हर साल 18 मार्च को Ordnance Factories Day मनाया जाता है. भारत की सबसे पुरानी Ordnance Factory कोलकाता के कोसीपोर में है, जिसकी शुरुआत 18 मार्च, 1802 में हुई थी.

पूरे भारत में लगेगी प्रदर्शनी

इस दिन पूरे भारत में प्रदर्शनियों में राइफलों, तोपों, तोपखाने, गोला-बारूद आदि का प्रदर्शन किया जाता है. आमतौर पर प्रदर्शनियां आम जनता के लिए खुली होती हैं. समारोह एक परेड के साथ शुरू होती है और प्रदर्शनी में विभिन्न पर्वतारोहण अभियानों की तस्वीरों को भी प्रदर्शित किया जाता है.

41 Ordnance Factories का समूह है OFB

दरअसल Ordnance Factory देशभर में कुल 41 Ordnance Factories के एक समूह है. इसका मुख्यालय अयोध्या भवन, कोलकाता में Ordnance Factory Board (OFB) है. OFB साल 1979 में 02 अप्रैल के दिन नए अवतार में अस्तित्‍व में आया. वर्तमान में ओएफबी रक्षा उपकरण बनाने वाला विश्व का 37 वां सबसे बड़ा निकाय है.

DRDO और CSIR के साथ करते हैं रिसर्च

बता दें कि, OFB अपने नए उपकरण की रिसर्च के लिए रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) और आईआईटी जैसे संस्थानों की मदद लेता है. इनके सहयोग से बड़े पैमाने पर रिसर्च और डेवलपमेंट के काम किए जाते हैं. इसके अलावा OFB ने उच्च श्रेणी की रिसर्च के लिए वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) के साथ भी एक MoU पर साइन किया है.

 

 

link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here