आखिर क्यों महिलाओं में Corona Vaccine के साइड इफेक्ट्स दिखने की आशंका है अधिक?

नई दिल्ली: कोरोना महामारी (Coronavirus) से बचने के लिए दुनियाभर में टीकाकरण की प्रक्रिया (Vaccination) जारी है. भारत में भी वैक्सीनेशन का दूसरा दौर शुरू हो गया है. फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन लगने के बाद अब आम लोगों को वैक्सीन लगायी जा रही है. कोरोना की यह वैक्सीन (Covid-vaccine) आपको कोविड-19 के गंभीर संक्रमण से तो बचाएगी लेकिन इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी हैं. कुछ लोगों में इसके बेहद हल्के फुल्के साइड इफेक्ट्स (Side effects) दिखते हैं तो कुछ लोगों में फ्लू इंफेक्शन जैसे गंभीर साइड इफेक्ट्स. वैक्सीन को लेकर रोजाना नई-नई रिसर्च सामने आ रही है जिसके मुताबिक पुरुषों की तुलना में महिलाओं में इसके साइड इफेक्ट्स अधिक देखने को मिल रहे हैं.

कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

कंपकंपी महसूस होना, बहुत अधिक पसीना आना, हल्का बुखार या फ्लू जैसे लक्षण कोरोना वैक्सीन के सामान्य साइड इफेक्ट्स हैं. डॉक्टरों की मानें तो लोगों को वैक्सीन लगने के बाद भी कुछ दिन आराम करना चाहिए ताकि वह पूरी तरह से रिकवर हो सकें. इसके अलावा कुछ ऐसे फैक्टर्स भी हैं जो किसी व्यक्ति में वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स विकसित होने की आशंका को बढ़ा सकते हैं और इसमें आपका महिला होना भी एक फैक्टर है. एक तरफ जहां महिलाओं में कोविड-19 की गंभीर बीमारी होने का खतरा कम है वहीं वैक्सीन के प्रति उनकी संवेदनशीलता अधिक है.

महिलाओं में साइड इफेक्ट्स के मामले अधिक

अमेरिका के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) ने शुरुआत में अलग-अलग उम्र के लोगों को जो 1 करोड़ 37 लाख कोविड वैक्सीन शॉट्स दिए गए थे उनकी जांच की. जब बात साइड इफेक्ट्स की आयी तो पता चला कि पुरुषों की तुलना में 79.1 प्रतिशत महिलाओं में कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स देखने को मिले. सीडीसी की स्टडी के मुताबिक फाइजर वैक्सीन लेने वाली करीब 44 प्रतिशत महिलाओं में बेहद गंभीर और जानलेवा एलर्जिक रिऐक्शन देखने को मिला जिसे ऐनाफिलाटिक (anaphylactic) यानी तीव्रग्राहिता के रूप में जाना जाता है. तो आखिर इसका कारण क्या है.

इन वजहों से महिलाओं में दुष्प्रभाव के मामले अधिक

अमेरिकी हेल्थ वेबसाइट healthline.com की एक रिपोर्ट की मानें तो महिलाओं में वैक्सीन के प्रति सामान्य रूप से ज्यादा मजबूत प्रतिक्रिया देखने को मिलती है क्योंकि जब शरीर में वैक्सीन पहुंचती है और अपना काम करना शुरू करती है तो महिलाओं का इम्यून सिस्टम तेज और तीव्र प्रतिक्रिया देता है. टेक्सस बायोमेडिकल रिसर्च के डॉ लैरी की मानें तो महिलाओं के शरीर में, सिर्फ कोरोना वैक्सीन ही नहीं बल्कि कई वैक्सीन के प्रति शानदार और मजबूत प्रतिक्रिया देखने को मिलती है. इसके पीछे वास्तव में बहुत अधिक विज्ञान है. कुछ स्टडी में यह बात भी सामने आयी है कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं के शरीर में वैक्सीन लगने के बाद इंफेक्शन से लड़ने वाले ज्यादा एंटीबॉडीज का निर्माण होता है.

(नोट: किसी भी उपाय को करने से पहले हमेशा किसी विशेषज्ञ या चिकित्सक से परामर्श करें. Zee News इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

 

link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here