14 साल पहले क्रिकेट के इतिहास में पहली बार लगे थे 6  बॉल पर 6 छक्के  

डिजिटल डेस्क (भोपाल)।  आज (16 मार्च 2007) से 14 साल पहले इंटरनेशनल क्रिकेट में एक नया इतिहास रचा गया था। वन-डे विश्वकप के मैच में एक बवंडर हुआ, जहां साउथ अफ्रीका के हर्शल गिब्स एक ओवर में छह छक्के लगाने वाले पहले बल्लेबाज बने। मैदान था वार्नर पार्क, अंतरराष्ट्रीय सर्किट के सबसे छोटे मैदानों में से एक था। गेंदबाज थे नीदरलैंड के लेगस्पिनर डैन वैन बंज।

यह मैच 40-40 ओवर का खेला गया था और दक्षिण अफ्रीका ने बहुत ही आसान जीत दर्ज की थी, लेकिन उससे पहले धांसू पारियों की वजह से यह मैच खास तौर पर याद किया जाता है। नीदरलैंड के कप्तान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया और दक्षिण अफ्रीका का पहला विकेट शून्य के स्कोर पर गिरा, एबी डिविलियर्स बिना खाता खोले पवैलियन लौट गए। इसके बाद कप्तान ग्रीम स्मिथ और जैक्स कैलिस ने धमाकेदार बल्लेबाजी करते हुए क्रमशः 67 और 128 रन की पारी खेली। कैलिस ने शतक जड़ा और वह नाबाद लौटे। दूसरा विकेट 114 के स्कोर पर गिरा।

स्मिथ के आउट होने के बाद हर्शेल गिब्स मैदान में उतरे और बहुत तेजी से महज 40 गेंदों में 72 रन की पारी खेली। उन्होंने लेगस्पिनर डैन वैन बंज के एक ही ओवर में 6 बॉल पर 6 छक्के जड़ दिए। वहीं, गिब्स के आउट होने के बाद मार्क वाउचर ने 31 गेंदों पर 75 रन की पारी खेली। इस तरह 40 ओवर में दक्षिण अफ्रीका ने 353 रन बनाए। लेकिन नीदरलैंड की टीम 40 ओवर में 9 विकेट पर 132 रन ही बना सकी।  गिब्स को उनकी धांसू पारी के लिए मैन ऑफ दा मैच चुना गया। गिब्स का पूरा नाम  हर्शेल हरमन गिब्स है।

गिब्स 1996 में भारत के खिलाफ कोलकाता में टेस्ट डेब्यू किया था।

link

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here